Tue. Sep 27th, 2022

सेब पूरी दुनिया में ही अपने गुणोंके कारण प्रसिद्ध है। इसकी फसलकेवल पहाड़ी क्षेत्रों में ही होती है ।परन्तु कश्मीर का सेब सबसे अधिकप्रसिद्ध है । स्वास्थ्य के लिये यह अधिक लाभकारी माना जाता है । इसकाकारण यह है कि सेब के अन्दर ‘मैलिकएसिड’ नाम का एक प्राकृतिक पदार्थरहता है । जो मानव मस्तिष्क के लियेअति उपयोगी माना जाता है । इसके अतिरिक्त सेब के अन्दर लोहतत्त्व तथा फासफोरस अधिक मात्रा में पाये जाते हैं जो हमारे शरीरको शक्ति प्रदान करते हैं तथा हमारी बुद्धि को तेज बनाते हैं।मैं यह बात अपने पाठकों को बताना चाहता हूँ कि जो भीआदमी हर रोज सुबह उठकर सेब खाता रहेगा उसका शरीर सदा हीशक्तिशाली और निरोगी बना रहेगा। फिर आप यह काम आज से ही क्योंनहीं शुरु कर देते। कुछ विशेष रोगों में सेब का लाभ इस प्रकार है-

मन्दबुद्धि लोगों के लिये

कुछ लोग शारीरिक रूप से तो बड़े स्वस्थ नजर आते हैं परन्तुउनकी बुद्धि कुन्द होती है जिसे आम भाषा में हम मन्द बुद्धि कहते हैं । ऐसे लोगों को सेब बिना छीले ही अच्छी तरह चबाकर खानाचाहिए । सेब को खाना खाने से पहले खाना चाहिए ।

हृदय रोगों के लिये

हृदय रोगियों के लिये सेब का मुरब्बा सुबह उठते ही निहार मुँहरोज खाना चाहिए ।

हाई ब्लड प्रेशर

हाई ब्लड प्रेशर के रोगियों को दो कश्मीरी अम्बरी सेब हर रोजसुबह उठकर खाने चाहिए । इससे उनके खून का दबाव सामान्यस्थिति में आ जायेगा ।

खांसी

खांसी के रोगियों के लिये मीठे सेब का रस एक गिलास जिसमेंथोड़ी मिश्री मिली हो हर रोज सुबह उठकर पीने से खांसी से मुक्तिमिल जायेगी ।

पेट रोग तथा पेचिश

पेट के रोगों के लिये सेब बहुत ही लाभकारी सिद्ध हुआ है ।पेचिश रोगियों के लिये सेब का रस दो-दो चम्मच एक-एक घंटे केपश्चात् रोगी को पिलाते रहें इससे वे रोग मुक्त हो जायेंगे ।जिन लोगों को गर्मी के कारण दस्त लगे हो उनके लिये-सेबको छीलकर उसके गृद्दे के छोटे-छोटे टुकड़े काटकर दूध में अच्छीतरह उबाल लें । यही दूध का आधा कप हर एक घंटे के पश्चात्पिलाने से दस्त का रोगी ठीक हो जाता है ।

जिगर का बढ़ना

हर रोज दो सेब सुबह खाने से जिगर के सारे रोग दूर हो जाते हैं।

पथरी

पथरी रोग के कारण लोग दर्द के मारे पानी से निकाली मछलीकी भाँति तड़पते हैं। कई लोग ऑपरेशन भी करवाते हैं। परन्तु इसके

सुन्दरता का रक्षक

जिन औरतों के चेहरे पर दाग होते हैं उनकी सुन्दरता कुरूपतामें बदल जाती है । इसलिये उनके रोग को दूर करना बहुत जरूरी है।नहीं तो उनकी चिन्ता अन्दर ही अन्दर एक रोग बन जायेगी इस रोगका उपचार बड़ा सरल है कोई भी इसे बड़े आराम से कर सकता है।उपचार कैसे करें–पपीते के छोटे टुकड़े काटकर उन दागों पर हर रोज दिन में चारबार मलते रहें । एक मास में सारे दाग साफ हो जायेंगे और आप का रूप निखर आयेगा ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.