Tue. Sep 27th, 2022

इस पौधे के गुल्म 1.5 मी. से 1.8 मी. तक ऊँचे होते हैं । फूल पीतवर्ण के पाँच पंखड़ियों वाले होते हैं । फल पकने पर उनमें से काले बीज निकलते हैं। बीजों में लुबाव होता है फूल आने का समय अगस्त-सितम्बर का है । फल सर्दी के मौसम में लगते हैं । यह पौधा पूरे भारत में मिलता है ।

लाभ

  • इसकी जड़ का चूर्ण, शहद एवं घी के साथ लेने से शरीर में शक्ति आती है और प्राणी स्वस्थ रहता है ।
  • पेशाब के रोगों में अतिबला का क्वाथ दिन में तीन बार देने से लाभ होता है ।
  • रक्त प्रदर में अतिबला की जड़ स्वरस मिश्री तथा देसी घी के साथ देने से लाभ होता है ।
  • जिन लोगों को नपुंसकता महसूस होती हो उनके लिये इसके बीज बहुत उपयोगी हैं ।
  • वस्तिशोथ में पत्र एवं जड़ का क्वाथ उपयोगी है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.