Tue. Sep 27th, 2022

खीरे का काम शरीर में बढ़ रही गर्मी को दूर करना तथा बढ़ी हुई चर्बी को कम करना है। विटामिनों से भरपूर खीरे का प्रयोग हर इन्सान के लिये लाभकारी माना जाता है ।

मधुमेय (शूगर)

शूगर रोग वाले लोगों को खीरे का रस नींबू के रस में डालकर एक चम्मच काला नमक मिलाकर हर रोज सुबह पिलाने से शूगर रोग से मुक्ति मिलती है ।

पथरी

250 ग्राम खीरे का रस दिन में तीन बार पीने से पथरी दूर हो जाती है ।

पेशाब पीला आना

कई लोगों के शरीर में अधिक गर्मी हो जाती है जिससे पेशाब पीला आने लगता है। कुछ लोगों को पेशाब करते समय जलन भी होती है। ऐसे रोगियों को सुबह उठते ही एक छोटा गिलास खीरे का रस नींबू और नमक मिलाकर पीना चाहिए ।

जोड़ों का दर्द (गठिया)

यह रोग इस समय भारत में तेजी से फैल रहा है। बहुत से रोगी चलने-फिरने, बैठने-उठने से परेशान हैं। ऐसे लोगों के लिए खीरा खाना बहुत ही उपयोगी सिद्ध हुआ है । इसके साथ-साथ लहसुन का भी प्रयोग करने से जोड़ों के दर्द को जल्दी लाभ मिलता है ।

पेट की गैस तथा पित्त रोग

जिन लोगों को पेट गैस का रोग लगा हो उन्हें खीरा अधिक से अधिक सलाद में नींबू डालकर खाना खाना चाहिए । इससे पेट की गैस भी दूर हो जाती है और पित्त रोग भी ।

चेहरे का रंग खराब होने पर

कई लोगों के चेहरों पर झाइयाँ पड़नी शुरू हो जाती हैं। जिनके कारण उनके चेहरे की सुन्दरता पर बहुत बुरा असर पड़ता है । ऐसे रोगियों के लिये खीरा बहुत गुणकारी है । इसका उपचार इस प्रकार से करें

खीरे का रस लेकर उसमें रुई के फोहे भिगो-भिगोकर उस स्थान पर रखकर साफ करे जहाँ पर रोग हो । हर रोज सुबह शाम ऐसा करने से आप रोग मुक्ति हो जायेंगे ।

Disclaimer: यहां दी गई जानकारी किसी चिकित्सकीय सलाह का विकल्प नहीं है । इनको केवल जानकारी के रूप में लें । इस तरह के किसी भी उपचार/दवा/डाइट पर अमल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.